Home उत्तराखंड आपदा प्रभावित परिवारों से मिले सीएम पुष्कर सिंह धामी ,कहा-विस्थापित होंगे परिवार

आपदा प्रभावित परिवारों से मिले सीएम पुष्कर सिंह धामी ,कहा-विस्थापित होंगे परिवार

23
0
SHARE

डीबीएल संवाददाता/ उत्तरकाशी | मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को उत्तरकाशी जिले के आपदा प्रभावित क्षेत्र मांडो और कंकराडी गांव का स्थलीय भ्रमण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान सीएम ने मृतकों के परिवार जनों से मुलाकात की और ढांढस बांधकर उनको हर संभव मदद का भरोसा दिया। उन्होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में सरकार उनके साथ हैं। उन्होंने इस मौके पर प्रभावित हुए पीड़ित परिवारों के साथ ही खतरे की जद में आये लोगों का विस्थापन करने की बात कही। वहीं मृतक आश्रितों को 04 लाख रुपये की अनुमन्य राशि दिए जाने के साथ ही एक-एक लाख रुपये मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से दिए जाने की बात कही। 

इस दौरान उन्होंने मांडो व कंकराड़ी गांव में पहुंचकर आपदा से हुए नुकसान का जायजा लिया। उन्होंने मांडो गांव के भ्रमण के दौरान ग्रामीणों की मांग पर माण्डो गांव के विस्थापन की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश डीएम को दिए। वहीं जल्द भू-वैज्ञानिक सर्वे कराने की बात कही। उन्होंने कहा कि 18 जुलाई को हुई अतिवृष्टि के कारण जो लोग प्रभावित हुए हैं तथा जो लोग खतरे की जद में आये हैं उनका विस्थापन किया जायेगा। वहीं मांडो गदेरे के दोनों तरफ सुरक्षा कार्य किए जायेंगे। आपदा के कारण जो पैदल मार्ग, आंतरिक सड़कें व पुल क्षतिग्रस्त हुए हैं उनका शीघ्र पुर्ननिर्माण किया जायेगा। कहा कि जहां पानी की समस्या बनी है वहां पर टयूबैल लगाया जायेगा। उन्होंने आपदा काल में समस्या जटिल है। इसलिए सभी लोग को सर्तक रहें।

जिलों की समस्याओं का जिले स्तर पर ही होगा निपटारा
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि जिलों की समस्याओं का जिले स्तर पर ही निस्तारण किया जायेगा। कहा कि जिले की समस्या को लेकर किसी को देहरादून व सचिवालय के चक्कर न काटने पड़े इसके लिए सरकार ने व्यवस्था बनाई है। जिले स्तर की जो भी समस्या होगी उसका जिले में ही निस्तारण किया जायेगा।

मुख्यमंत्री को देखकर भावुक हुई महिला
आपदा प्रभावित मांडों गांव पहुंचने पर मुख्यमंत्री को देखकर एक महिला रोने लगी और अपनी समस्याएं बताई। महिला नें मुख्यमंत्री से कहा कि उसका सब कुछ आपदा में बह गया। मकान में मलबा आया जो रहने लायक नहीं है। महिला की समस्या को देखकर मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी को निर्देशत करते हुए शीघ्र ही उनकी समस्या का समाधान करने को कहा। वहीं मुख्यमंत्री ने महिला को हर संभव मदद देने की बात कही।

मांडो के ग्रामीणों ने किया सीएम का घेराव, लगाए मुर्दाबाद के नारे
आपदा प्रभावित क्षेत्र मांडो गांव पहुंचे सीएम पुष्कर सिंह धामी को ग्रामीणों के विरोध का सामाना भी करना पड़ा। पीड़ित परिवार से मुलाकात करने के बाद जब सीएम अपने काफीले के साथ कंकराड़ी गांव को रवाना हुए तो इसी दौरान आपदा से प्रभावित हुए मांडों गांव के ग्रामीणों ने सीएम का घेराव कर दिया। ग्रामीणों ने आरोप लागया कि वह केवल भाजपा कार्यकर्ताओं से मिल रहे हैं और आपदा प्रभावितों की समस्याएं नहीं सुन रहे। जिसके बाद उन्होंने भाजपा सरकार के मुर्दाबाद के नारे लगाया। ग्रामीणों ने कहा कि उन्होंने सीएम को मांडों गांव की समस्याओं को लेकर वार्ता करनी चाहिए थी, लेकिन सीएम को भाजपा के कार्याकर्ताओं ने घेरे रखा है ।

उनको मांडों गांव में आपदा प्रभावित ग्रामीणों के साथ ही गांव के पूरे समस्या को सुननी चाहिए था। लेकिन मुख्यमंत्री ने उनकी समस्याएं जिसको लेकर उन्होंने भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। वहीं दूसरी ओर सीएम के साघ्थ सार्थक वार्ता न होने पर तिलोथ की महिलाओं ने भी नाराजगी व्यक्त की है। महिलाओं ने नगर पालिका की ओर से बनाए जा रहे डंपिंग जोन को तिलोथ से हटाये की मांग की। नारेबाजी करने वालों में आदित्य चौहान, राघवेंद्र नौटियाल, सतेंद्र गुसांई, अर्जुन सिहं चौहान, आकाश भट्ट, पुनिता चौहान, सावित्री चौहान, सरोज गुसांई आदि मौजूद थे।

मृतकों के परिजनों की पीड़ा सुन आश्वासन दिया

उत्तरकाशी में आपदा प्रभावित क्षेत्र का दौरा करने पहुंचे सीएम पुष्कर सिंह धामी ने भ्रमण के दौरान आपदा में मरे मृतकों के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें ढंढास बांधाया। इस दौरान पीड़ित की मां अन्नपूर्णा देवी व ग्रामीणों ने पीड़ित देवानंद भट़ट जो पेशे से शिक्षक हैं। उनका स्थानांतरण चिन्यालीसौड़ सर्प से मांडो व जसपुर गांव में करने की मांग की। जिस पर सीएम धामी ने डीएम मयूर दीक्षित को तत्काल कार्यवाही कर स्थानांतरण करने के निर्देश दिए। वहीं इसके बाद सीएम कंकराड़ी गांव पहुंचे। जहां उन्होंने मृतक सुमन गुसांई के पिता गोकुल गुंसाई से मुलाकात की और उन्हें सांत्वना दी। परिवार में एक अकेला युवक को खोकर भावुक हो उठे परिजनों ने सीएम के समक्ष परिवार के लालन पालन के लिए रोजगार मुहैया कराने की मांग की। जिस पर सीएम ने सरकारी सेवा में लगाने का आश्वासन दिया।

LEAVE A REPLY