Home उत्तराखंड उत्तराखंड के स्वाभिमान प्रतीक हैं स्व. बहुगुणा : मुख्यमंत्री

उत्तराखंड के स्वाभिमान प्रतीक हैं स्व. बहुगुणा : मुख्यमंत्री

660
0
SHARE

पौड़ी/देहरादून। हेमवती नंदन बहुगुणा की 98वीं जयंती के अवसर पर उनके पैतृक गांव बुघाणी में उनकी स्मृति में बने संग्रहालय का उद्घाटन प्रदेश के मुखिया त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने बहुगुणा जी के मुख्यमंत्रित्व काल में बने पर्वतीय विकास मंत्रालय का जिक्र करते हुए कहा कि यह दूर दृष्टि का नतीजा था जो कि पहाड़ के विकास के लिए एक बड़ा कदम साबित हुआ। उन्होंने कहा कि बहुगुणा आत्मसम्मान व स्वाभिमान के प्रतीक हैं।

मुख्यमंत्री रावत ने स्व. बहुगुणा को श्रृद्धांजलि देते हुए उनके द्वारा किये गये विकास उन्नयन के कार्यों को आज भी स्वाभाविक रूप से अपनाये जाने पर जोर दिया। उन्होनें राज्य की प्रगति के लिए ठोस रणनीति के तहत कार्य करने की रणनीति पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि पर्यटन, उद्योग, आयुष, सुगंधित जड़ी बूटी, खनन समेत कई अनेक क्षेत्रों में राज्य को अपने संसाधन बढ़ाने होंगे। उन्होंने कहा कि गत दिवस नीति आयोग की बैठक में उन्होंने जल संसाधन पर अपनी बात रखी। आज राज्य को नियोजित पारदर्शी और संतुलित विकास दर की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री रावत ने प्रदेश के विकास में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने पर जोर दिया।

संग्रहालय उद्घाटन अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, उत्तर प्रदेश की बाल विकास एवं शिशु कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, वन एवं वन्य जीव जन्तु पर्यावरण मंत्री डा. हरक सिंह रावत, पर्यटन धर्मस्व एवं सिचाई मंत्री सतपाल महाराज, उच्चशिक्षा सहकारिता एवं दुग्ध विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धन सिंह रावत ने भी जनता को संबोधित करते हुए हिमपुत्र हेमवती नंदन बहुगुणा के बताये गये रास्तों पर चलने का आव्हान लोगों से किया।

इस अवसर पर विजय बहुगुणा के ज्येष्ट पुत्र साकेत बहुगुणा एवं सितारगंज विधायक सौरभ बहुगुणा, देवप्रयाग विधायक विनोद कंडारी, पौड़ी विधायक मुकेश कोली, शेखर बहुगुणा, विपिन मैठाणी, राजेंद्र प्रसाद टम्टा, लखपत सिंह भंडारी, राकेश डोभाल, मुकेश रावत, जिलाधिकारी चंद्रशेखर भट्ट, एसएसपी मुख्तार मोहसिन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा क्षेत्रीय जनता उपस्थित थी। कार्यक्रम का संचालन पूर्व ब्लाक प्रमुख सम्पत सिंह रावत ने किया।

Key Words : Uttarakhand, Pauri, HN Bahuguna, Museum Opening

 

LEAVE A REPLY