Home अपना दून बजाज इंस्टीट्यूट आॅफ लर्निंग के विशेष बच्चे अपनी भाषा में करेंगे पूजा-अर्चना

बजाज इंस्टीट्यूट आॅफ लर्निंग के विशेष बच्चे अपनी भाषा में करेंगे पूजा-अर्चना

776
0
SHARE
बजाज पब्लिक चेरिटेबल ट्रस्ट की ओर से दून के अस्थल गांव में की जा रही मंदिर की स्थापना 

देहरादून। बजाज पब्लिक चेरिटेबल ट्रस्ट की ओर से शिव के भव्य मंदिर की स्थापना अस्थल गांव के नजदीक की जाएगी। इस मंदिर में मूक बधिर लोगों को सांकेतिक भाषा का प्रयोग करके पूजा अर्चना करवाई जाएगी। बजाज पब्लिक चेरिटेबल ट्रस्ट के तहत बीते 17 वषों से दून में बजाज इंस्टीट्यूट आॅफ लर्निंग सेंटर के माध्यम से मूक बधिर बच्चों की शिक्षा एवं उन्हें सशक्त बनाने की दिशा में कार्य कर रहा है।

मंगलवार को उत्तरांचल प्रेसक्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में पब्लिक चेरिटेबल ट्रस्ट के सदस्य राजीव हाजरा और बजाज इंस्टीट्यूट ऑफ लॉर्निंग की जसदीप कौर ने बताया कि इस शिवालय में भगवान शिव सहित गणेश और मॉ पार्वती व चार मुखी हनुमान की प्रतिमा स्थापित की जा रही है। इस शिवालय का निर्माण ट्रस्ट के सदस्यों के धार्मिक गुरू के आदेश से करवाया जा रहा है। मंदिर की मुख्य विशेषता यह है कि, मूक बधिर लोगों द्वारा संकेतिक भाषा का प्रयोग करके पूजा अर्चना करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि मंदिर में सभी आम श्रद्धालुओं के लिए भी खुला रहेगा। साथ ही समय-समय पर मंदिर में धार्मिक उत्सव व प्रवचन आदि गतिविधियां भी संचालित की जाएंगी। मंदिर की स्थापना के लिए ट्रस्ट के 60 से अधिक सदस्य दिल्ली, मुंबई व अन्य शहरों से पहुंचे हैं।

4 अक्टूबर को होगा शिव का रुद्राभिषेक:
4 अक्टूबर बुधवार को भगवान शिव का रुद्राभिषेक करेंगे। विभिन्न परोपकारी संस्थाओं से जुडे हुए श्रद्धालु और मंदिर के शिलान्यास कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे।

Key Words : Uttarakhand, Dehradun, Special Children, Sign language, worship

LEAVE A REPLY