Home उत्तराखंड …तो शौचालय निर्माण की धनराशि भी डकार गए भुनका गांव के प्रधान...

…तो शौचालय निर्माण की धनराशि भी डकार गए भुनका गांव के प्रधान जी !

1004
0
SHARE

रुद्रप्रयाग। ग्राम पंचायत भुनका के ग्रामीणों ने अपने ग्राम प्रधान पर गांव में किये जाने वाले विकास कार्यों में धांधली का अरोप लगाया है। ग्रामीणों का कहना है कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय से लाभांवित होने वाले व्यक्तियों को गलत तरीके से दर्शाया गया है। ग्रामीणों ने प्रधान पर यह भी आरोप लगाया कि मनरेगा योजना के अंतर्गत जाॅब कार्ड धारकों के साथ अनियमितता बरती जा रही है, जिससे ग्रामीणों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सोमवार को जिलाधिकारी को सौंपे ज्ञापन में ग्रामीणों ने कहा कि ग्राम प्रधान भुनका मंजू देवी ने ग्राम पंचायत के विकास कार्यों में खर्च होने वाली धनराशि व मनरेगा के तहत स्वरोजगार प्राप्त करने वाले जाब कार्ड धारकों के साथ अनियमितता बरती है। ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया है कि स्वजल योजना में बनने वाले शौचालयों में भी गलत व्यक्तियों के नाम दर्शाये गए हैं।

ग्रामीणों का कहना है कि स्वजल योजना के अंतर्गत ग्राम पंचायत भुनका के 14 व्यक्तियों को शौचालय निर्माण के लिये दी गई धनराशि में से केवल ग्राम पंचायत ने मात्र पांच लोगों को ही धनराशि दी है। जबकि नौ लोगों के फर्जी नाम दिये गये हैं योजना की धनराशि में फर्जीवाड़ा कर प्रधान ने बाकी धनराशि डकार ली है। ग्रामीणों का कहना है कि प्रधान ने ऐसे फर्जी नामों को दर्शाया है जो परिवार सहित गांव में रहते ही नहीं हैं।

ग्रामीण हरि सिंह राणा, सोहन सिंह, मेहमान सिंह, प्रेम सिंह, प्रताप सिंह, बलवीर सिंह, आम सिंह सहित अन्य ग्रामीणों का कहना है कि ग्राम प्रधान ने गांव में होने वाले विकास कार्यों में भारी धांधली की है। उन्होंने जिलाधिकारी से ग्राम प्रधान द्वारा गांव में कराये गये कार्यों एवं शौचालय निर्माण की जांच कराने की मांग की है।

Key Words : Uttarakhand, Rudraprayag, Bhunka Village, Pradhan, Blame

 

LEAVE A REPLY