Home सामाजिक सरोकार पर्यावरण संरक्षण : वेस्ट वाॅरियर्स की नायाब पहल – ’प्लास्टिक कचरा लाओ...

पर्यावरण संरक्षण : वेस्ट वाॅरियर्स की नायाब पहल – ’प्लास्टिक कचरा लाओ और मुफ्त जैविक खाद पाओ’

54
0
SHARE

पंकज भार्गव / देहरादून।

उत्तराखंड एवं हिमाचल प्रदेश मे ठोस कचरा प्रबंधन पर कार्य कर रही देहरादून की वेस्ट वाॅरियर्स संस्था ने पर्यावरण को प्लास्टिक कचरे से संरक्षित करने के लिए एक नायाब मुहिम की शुरूआत की है। इस मुहिम के तहत संस्था को प्लास्टिक कचरा देने वाले को कचरे के वजन के बराबर जैविक खाद मुफ्त दी जाएगी।

वेस्ट वाॅरियर्स संस्था के संस्थापक नवीन कुमार सडाना का कहना है कि यह बात हर किसी को अच्छे से पता है कि प्लास्टिक हमारे स्वास्थ्य और पर्यावरण के लिए बहुत बड़ा खतरा है। इस्तेेमाल किए जाने के बाद प्लास्टिक की बनी पानी, कोल्ड ड्रिंक की बोतल, चिप्स नमकीन या पैकेजिंग प्लास्टिक के पैकेट, पाॅलीथिन आदि को जहां तहां फेंके जाने से हम मानव ही नहीं समस्त जीव जंतुओं के जीवन पर बीमारियों का खतरा मंडराने लगा है। इस दिशा में वेस्ट वाॅरियर्स के कार्यकर्ता लोगों को जागरूक करने के साथ ही प्लास्टिक को पुनः चक्रित करने के कार्य में जुटे हुए हैं उन्होंने बताया कि प्लास्टिक के कचरे से होने वाले दुष्परिणामों से पर्यावरण को बचाने के लिए संस्था द्वारा प्लास्टिक का कचरा देने वाले को कचरे के वजन के बराबर जैविक खाद दिए जाने की मुहिम की शुरूआत की गई है।

प्लास्टिक कचरे को घर लेने आती है गाड़ी :

संस्था द्वारा देहरादून के हर्रावाला में प्लास्टिक कचरे के प्रबंधन का कार्य वर्ष 2020 से किया जा रहा है। वेस्ट वाॅरियर्स की गाड़ी घरों से प्लास्टिक के कचरे को रीसाॅयकल के लिए एकत्र करती है।

आधुनिक तरीके से बनाई जा रही है जैविक खाद :

संस्था के स्वच्छता केंद्र पर खाद बनाने का कार्य आधुनिक तरीके से किया जाता है। पूरी तरह से जैविक इस खाद का इस्तेमाल किचन गार्डन, गमलों आदि में किया जा सकता है।

यूटीडीबी से मिला उत्कृष्ट कार्य का सम्मान :

उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद यूटीडीबी ने बीते दिनों स्वच्छ भारत अभियान को सफल बनाने के उत्कृष्ट कार्य के लिए वेस्ट वाॅरियर्स संस्था को सम्मानित किया था।

LEAVE A REPLY