Home उत्तराखंड यमुनोत्री को जिला बनाने की मांग : जूस पिलाकर भूख हड़ताल कराई...

यमुनोत्री को जिला बनाने की मांग : जूस पिलाकर भूख हड़ताल कराई खत्म-केंद्रीय गृह मंत्री ने दिया कार्यवाही का आश्वासन

1300
0
SHARE

शान्ति टम्टा
बड़कोट/उत्तरकाशी। यमुनोत्री को जिला बनाए जाने की मांग को लेकर रवांईघाटी के लोगों की विगत 23 दिनों से जारी भूखहड़ताल को स्थानीय विधायक व पूर्व खेलमंत्री ने जूस पिलाकर खत्म करवा दिया है। पृथक जिले की मांग को बनाई गई संघर्ष समिति की मांग को केंद्रीय गृह मंत्री के समक्ष रखा गया है। साथ ही सूबे के मुख्यमंत्री से भी शीघ्र इस सम्बंध में वार्ता का आश्वासन दिया गया है। वहीं हड़ताल पर बैठे स्थानीय लोगों का कहना है कि यदि शीघ्र उनकी मांगों पर सकारात्मक कार्यवाही नहीं की गई तो वे दोबारा भूख हड़ताल जैसे कदम उठाने को विवश होंगे।

पृथक जिले की मांग को लेकर बनी संघर्ष समिति के अध्यक्ष अबल चंद कुमाई ने बताया कि यमुनोत्री विधायक व पूर्व खेल मंत्री नारायण सिंह राणा सहित समिति का एक प्रतिनिधि मंडल ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात कर मांग को उनके सम्मुख रखा जिस पर गृह मंत्री ने जल्द ही इस मुद्दे को सूबे के मुख्यमंत्री से वार्ता कर निर्णय लिए जाने का आश्वासन दिया है।

गुरुवार को यमुनोत्री विधायक केदार सिंह एवं पूर्व खेल मंत्री नारायण सिंह राणा ने धरना स्थल पहुंचकर भूख हड़ताल पर बैठे लोगों से वार्ता की और जल्द कार्यवाही का आश्वासन देकर उन्हें जूस पिलाकर हड़ताल खत्म करवाई। वहीं मामले में संघर्ष समिति अध्यक्ष अबल चंद कुमाई उन्होंने कहा कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं हो जाती आंदोलन जारी रहेगा।

भूख हड़ताल पर बैठे कामरेड बलवीर सिंह, फकीरा लाल, महावीर, जयेन्द्र सिंह, पूर्वी देवी, सुनैना, जगदम्बा देवी, रणवीर सिंह आदि ने चेतावनी दी है कि पृथक जिले की मांग को लेकर आंदोलन खत्म नहीं हुआ है केवल भूखहड़ताल स्थगित की गई है।

LEAVE A REPLY